आवासन आयुक्त एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव ने मानसरोवर के टेक्नॉलोजी पार्क में पौधारोपण कर किया कन्या वाटिका का शुभारम्भ

आवासन आयुक्त एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव ने मानसरोवर के टेक्नॉलोजी पार्क में पौधारोपण कर किया कन्या वाटिका का शुभारम्भ
  • District : dipr
  • Department :
  • VIP Person :
  • Press Release
  • State News
  • Attached Document :

    CN-11-09-2020-05.docx

Description

आवासन आयुक्त एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव ने मानसरोवर के
टेक्नॉलोजी पार्क में पौधारोपण कर किया कन्या वाटिका का शुभारम्भ

जयपुर, 11 सितम्बर। आवासन आयुक्त श्री पवन अरोड़ा ने शुक्रवार को मानसरावेर स्थित टेक्नोलॉजी पार्क में पौधारोपण कर राजस्थान आवासन मंडल और महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त तत्वावधान में यहां बनने वाली कन्या वाटिका का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव श्री के.के. पाठक ने भी पौधारोपण किया।
 
आवासन आयुक्त ने बताया कि इस पार्क में बड़ी संख्या में फलदार पौधे लगाकर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना अन्तर्गत बालिकाओं के जन्म को समर्पित कन्या वाटिका का विकास किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आम लोग खासतौर पर महिलाएं व किशोरियां जब यहां आएंगी, तो यहां आकर वे इन पौधों और फलों का महत्व समझेंगे और उनमें पोषण के प्रति जागरूकता बढे़गी। अगर महिलाओं में पोषण की जागरूकता होगी, तो उसका लाभ उनके परिवार के साथ पूरे समाज को मिलेगा। उल्लेखनीय है कि यहां चीकू, पपीता, अमरूद, नींबू सहित अनेकों फलदार पौधों को लगाया गया है। यहां इन फलदार पौधाें से होने वाले लाभों के बारे में बोर्ड लगाकर प्रदर्शित किया जाएगा।  इस अवसर पर महिला अधिकारिता विभाग की आयुक्त श्रीमती रश्मि गुप्ता, समेकित बाल विकास परियोजना की निदेशक डॉ. प्रतिभा सिंह, महिला अधिकारिता विभाग की अतिरिक्त निदेशक डॉ. आभा जैन, समेकित बाल विकास सेवाएं की अतिरिक्त् निदेशक रंजीता गौतम आवासन मंडल के अतिरिक्त मुख्य अभियंता श्री नत्थूराम, उप आवासन आयुक्त श्री जे.एस. बुगालिया सहित बड़ी संख्या में अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।
 
3 करोड़ रूपये की लागत से टेक्नॉलोजी पार्क में बनेगा प्रदेश का पहिला इंदिरा महिला शक्ति केन्द्र 
आवासन आयुक्त श्री पवन आरोडा ने बताया कि इस टेक्नोलॉजी पार्क में राजस्थान आवासन मंडल और महिला एवं बाल विकास के सयुंक्त तत्वावधान में महिलाओं की समस्याओं के समाधान एवं काउंसलिंग के लिये इंदिरा महिला शक्ति केन्द्र बनाया जायेगा। उल्लेखनीय है कि इस केन्द्र के निर्माण के संबध्ां में महिला एवं बाल विकास विभाग ने राजस्थान आवासन मण्डल को प्रस्ताव दिया है।
 
उन्होंने बताया कि 18 सितम्बर, 2020 को आयोजित होने वाली बोर्ड की संचालक मंडल की बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा दिए गए प्रस्ताव का अनुमोदन करवाया जाएगा। प्रस्ताव के अनुमोदन के बाद राजस्थान आवासन मण्डल और महिला एवं बाल विकास विभाग के मध्य राज्य सरकार की अनुमति केे बाद एक एमओयू साईन किया जायेगा। इस प्रोजेेक्ट की लागत लगभग 3 करोड़ रूपये होगी।
 
केन्द्र पर यह होगा खास
श्री अरोडा ने बताया कि यहां महिलाओं की समस्याओं के समाधान से संबंधित विभिन्न काउंसलिंग एवं समाधान केन्द्र स्थापित किये जायेंगे। यह केन्द्र अभी महिला आयोग में चल रहा है जिसे यहां स्थानान्तरित किया जायेगा। यह केन्द्र अपनी तरह का अनूठा होगा, जिसमें बच्चों के लिये डे-केयर सेंटर व क्रेच और महिलाओं की समस्याओं के समाधान के लिये काउंसलिंग एवं समाधान केन्द्र बनाया जायेगा। इस केन्द्र पर सेल्फ डिफेंस एवं उद्यमिता व कौशल प्रशिक्षण हेतु नियमित सुविधा केन्द्र बनाने के साथ यहां आंगनबाडी कार्यकर्ताओं एवं साथिनों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। 

यहां महिलाओं एवं बच्चों के लिये उनकी कला एवं अभिरूचि के विकास के लिये नियमित रूप से हॉबी क्लासेज के संचालन हेतु कला केन्द्र बनाया जायेगा। महिला एवं बच्चों के लिये माईनर स्पोटर््स जोन, महिला संघ सहायता समूह के हस्तशिल्प, परिधान एवं खाने-पीने के उत्पादों के प्रमोशन के लिये हेरिटेज हाट व फूड जोन बनाया जायेगा। इसके साथ ही यहां महिलाओं के लिए पृथक से गेस्ट हाउस का भी निर्माण किया जाएगा।

बनेगा किडस प्ले व एंटरटेनमेंट जोन
यहां बच्चों के शारीरिक विकास एवं मनोरंजन के लिये किडस प्ले व एंटरटेनमेंट जोन बनाया जायेगा। इसके साथ ही यहां कन्या वाटिका वॉक एण्ड लर्न पाथ वे भी बनाया जाएगा।

---

Supporting Images

आवासन आयुक्त एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव ने मानसरोवर के टेक्नॉलोजी पार्क में पौधारोपण कर किया कन्या वाटिका का शुभारम्भ