शैक्षणिक सुधारों के लिए सघन निरीक्षण करें-शिक्षा राज्य मंत्री

  • District : dipr
  • Department :
  • VIP Person :
  • Press Release
  • State News
  • Attached Document :

    LK-08-11-2019-10.docx

Description

शैक्षणिक सुधारों के लिए सघन निरीक्षण करें-शिक्षा राज्य मंत्री

जयपुर, 8 नवम्बर। शिक्षा राज्य मंत्री श्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कोटा के यूआईटी ऑडिटोरियम सभागार में शुक्रवार को संभाग के सभी शिक्षा अधिकारियों की बैठक लेकर शैक्षणिक सुधार के लिए सघन निरीक्षण करने के निर्देश दिये। 

श्री डोटासरा ने कहा कि प्रदेश को शिक्षा के क्षेत्र में प्रथम पायदान पर लाने के लिए शिक्षा अधिकारियों को स्वप्रेरित होकर सघन निरीक्षण करते हुए सुधारात्मक कदम उठाने होंगे। उन्होंने कहा कि संसाधनों की कमी नहीं है। पर्याप्त स्टाफ है, ऎसे में निरीक्षण कार्य में लापरवाही बर्दास्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि जब भी क्षेत्र भ्रमण पर जायें अधिकारी विद्यालयों का समग्र निरीक्षण कर सूचनाओं को पोर्टल पर अपलोड भी करें। उन्होंने कहा कि आओ विद्यालय चलेें कार्यक्रम का उद्देश्य भी यही है कि प्रत्येक दिवस विद्यालय की चर्चा हो। गांव के लोगों को विद्यालयों से जोडें एवं भामाशाहों व जनप्रतिनिधियों से सम्पर्क कर आधारभूत सुविधाओं में सुधार करें। 

शिक्षा राज्य मंत्री ने समीक्षा के दौरान खेलों के क्षेत्र में संभाग के पिछडने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि प्रत्येक विद्यालय में उपलब्ध संसाधनों का उपयोग किया जाकर विद्यार्थियों की प्रतिभा के अनुसार खेलों में तराशने का कार्य करें। उन्होंने शारीरिक शिक्षकों को भी अनिवार्य रूप से विद्यार्थियों से सीधा संवाद कायम करने के निर्देश दिये। 

उन्होंने शिक्षकों की विभिन्न विभागों एवं गैर शैक्षणिक कार्यों में प्रतिनियुक्ति को गंभीरता से लेते हुए कहा कि ऎसे शिक्षकों के खिलाफ एवं संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने अन्य विभागों में अथवा बिना आवश्यकता के प्रतिनियुक्त सभी शिक्षकों को मूल स्थानों पर भिजवाने की बात कही। उन्होंने शिक्षा अधिकारियों को नाकारा सामानों की नीलामी 31 मार्च तक आवश्यक रूप से करने एवं कमरों का उपयोग अध्यापन के लिए करने के निर्देश दिये। समीक्षा के दौरान उन्होंने जिले वार विभिन्न गतिविधियों एवं योजनाओं की प्रगति की विस्तार से जानकारी ली। इस अवसर पर शासन सचिव मंजू राजपाल, निदेशक नथमल डिडेल, संयुक्त निदेशक श्री रामस्वरूप मीणा सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों एवं संभाग से आये शिक्षाधिकारी उपस्थित रहे।
 


------


Supporting Images